‘मेक इन इंडिया’ को झटका, लगातार दूसरे साल स्वदेशी असॉल्ट राइफल ‘एक्स-कैलिबर’ को भारतीय सेना ने किया रिजेक्ट

लगातार दूसरी बार स्वदेशी असॉल्ट राइफल एक्स-कैलिबर को भारतीय सेना ने रिजेक्ट कर दिया है. असॉल्ट राइफल को एके-47 और इंसास के जगह पर लाने की योजना थी. लेकिन अब सेना द्वारा दुसरे साल भी रिजेक्ट किया जाना अब इसके निर्माण पर कई सवाल खड़े कर रहा है.

एनडीटीवी की खबर के मुताबिक इस राइफल का पिछले सप्ताह परिक्षण किया गया था. लेकिन उन्हें परिक्षण के दौरान इस रायफल में कई खामियां मिली हैं. इस राइफल का टेस्ट सरकार के ऑर्डिनेंस फैक्टरी बोर्ड द्वारा लिया गया था. खबरों के मुताबिक इस राइफल में के टेस्ट के दौरान पाया गया कि एक्स-कैलिबर 7.62 x 51 mm असॉल्ट राइफल्स फायरिंग के बाद बड़ी तेजी से झटका देती है.

खबरों के मुताबिक असॉल्ट राइफल्स में अधिक चमक और साउंड की समस्या है जो कि युद्ध के दौरान ठीक नही होगा. एनडीटीवी की खबर के मुताबिक इस राइफल में लोडिंग और भी आसान बनाने के लिए मैग्जीन में बदलाव का सुझाव भी दिया है. परिक्षण में तकरीबन 20 बार फायरिंग में रुकावट और खामियां देखी गई.

स्वदेश में बनी राइफल अगर पास नही होती है तो ऐसे विदेश का रुख करना पड़ सकता है. ऐसे में विदेशी कंपनीयों से संपर्क करना और और फिर नियमों के तहत उन्हें काम सौपना यह एक लंबा प्रोसेस हो सकता है. फिलहाल अगर ऐसा होता है तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेक इन इंडिया अभियान के लिए एक झटके की तरह होगा.

Be the first to comment on "‘मेक इन इंडिया’ को झटका, लगातार दूसरे साल स्वदेशी असॉल्ट राइफल ‘एक्स-कैलिबर’ को भारतीय सेना ने किया रिजेक्ट"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*


twenty − 19 =