कतर में फंसे हैं 7 लाख भारतीय, निकालने के लिए स्पेशल विमान चलाएगी सरकार.

इस महीने की शुरुआत में 7 खाड़ी देशों ने कतर के साथ रिश्ते तोड़ने की घोषणा की थी. यात्रा और व्यापारिक रिश्तों का भी बहिष्कार किया था. इस ब्लॉकेज की स्थिति में वहां फंसे भारतीयों को निकलाने के लिए भारत सरकार स्पेशल फ्लाइट्स चलाएगी.

तीन जगहों से अतिरिक्त फ्लाइट्स
नागरिग उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू ने कहा, एअर इंडिया और प्राइवेट एअरलाइन अतिरिक्त फ्लाइट चलाएंगे जो कि दोहा से कराची, तिरूवनंतपुरम और मुंबई के लिए है. उन्होंने भरोसा दिया कि कतर में रह रहे भारतीय खुद को फंसा हुआ नहीं महसूस कर रहे हैं, लेकिन कई भारतीय टिकट नहीं ले पा रहे हैं. इसका कारण है कि ब्लॉकेज के बाएक तरफ एअर इंडिया केरल और दोहा के बीच 25 जून से 8 जुलाई के लिए स्पेशल फ्लाइट चला रही है. दूसरी तरफ जेट एअरवेज मुंबई से दोहा के बीच कुछ अतिरिक्ट फ्लाइट्स चला रहा है.

22-23 जून को 168 सीटर एअरक्राफ्ट
नागरिक उड्डयन मंत्रालय से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, जेट एअरवेज 22 और 23 जून को एक 168 सीटर एअरक्राफ्ट ऑपरेट करेगा. एअर इंडिया की सहायक कंपनी एअर इंडिया एक्सप्रेस 186 सीट के बोइंग 737 विमान तिरुवनंतपुरम से दोहा और कोच्चि से दोहा के रूट पर 25 जून से 8 जुलाई तक चला रहा है.

सुषमा स्वराज के संपर्क में हैं मंत्री
राजू ने कहा, सरकार कुछ दूसरी प्राइवेट एअरलाइंस से भी इस बारे में बात कर रही है. उन्होंने कहा, यह प्रयास विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से बात करने के बाद शुरू किया गया है. यह सभी प्रयास दोहा से सही समय पर भारतीयों को लाने के लिए किया जा रहा है. इस मुद्दे पर वह लगातार सुषमा स्वराज के संपर्क में हैं.

7 खाड़ी देशों ने लगाया है बैन
बता दें कि संयुक्त अरब अमीरात, सऊदी अरब और बहरीन ने इस महीन की शुरुआत में दोहा से अपने हवाई संबंध खत्म कर लिए थे. इसके सथ ही साथ कतर पर टेरर फंडिंग का आरोप लगाते हुए 7 खाड़ी देशों जिसमें यूएई, सऊदी अरब, मित्र और बहरीन भी शामिल हैं.द उनसे अतिरिक्त चार्ज मांगा जा रहा है. बता दें कि कतर में करीब 7 लाख भारतीय रहते हैं.

Be the first to comment on "कतर में फंसे हैं 7 लाख भारतीय, निकालने के लिए स्पेशल विमान चलाएगी सरकार."

Leave a comment

Your email address will not be published.


*


four − two =